Hindi

करण जौहर के वो सीक्रेट जो आपने कहीं नहीं पढ़े होंगे

करण जौहर ‘क’ अक्षर को अपने लिए लकी मानते हैं. इसी वजह से उनकी ज़्यादातर फ़िल्में ‘क’ अक्षर से ही शुरू होती हैं जैसे कि कुछ कुछ होता है, कभी अलविदा ना कहना, कभी ख़ुशी कभी ग़म.

Babloo Bachelor Poster 1

मल्टी टैलेंटेड करण

करण ने अपना करियर एक एक्टर के तौर पर शुरू किया था. दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे में करण ने शाहरुख़ के दोस्त का छोटा सा किरदार निभाया था. इसके साथ ही करण एक फ़ैशन डिज़ाइनर भी हैं. करण ने कई फ़िल्मों के लिए कॉस्ट्यूम डिज़ाइन किए हैं. करण ज़्यादातर शाहरुख़ ख़ान के ही कपड़े डिज़ाइन करते हैं.

ममाज़ बॉय हैं करण

करण वैसे तो अपने माता पिता दोनों के ही काफ़ी क़रीब रहे हैं. लेकिन उनमें भी करण अपनी मां के ज़्यादा नज़दीक रहे हैं. करण अपनी मां से हर बात शेयर करते हैं और उनसे बात करके परेशानियों से आज़ाद हो जाते हैं.

ऋतिक रौशन को बहुत मानते हैं

करण और ऋतिक बचपन के दोस्त हैं. ऋतिक की अपने काम को लेकर दीवानगी करण को सबसे ज़्यादा भाती है. करण कहते हैं हम सब लोग तो काम को 100 % देते हैं लेकिन ऋतिक 300 % देते हैं.

हिंदी गानों में जान बसती है

करण को बचपन से ही हिंदी फ़िल्मों के गाने बहुत पसंद रहे हैं. करण के माता पिता अकसर करण को उन गानों पर सबके सामने डांस करने को कहते थे. करण श्रीदेवी और जया प्रदा के गानों पर ख़ूब डांस करते थे.

बचपन में लड़कियों की तरह दिखते थे करण

बचपन में फ़ेमिनिन दिखने की वजह से स्कूल में करण का मज़ाक उड़ाया जाता था. इसी वजह से स्कूल में उनके कुछ ख़ास दोस्त नहीं रहे.

ऑस्कर की है ख़्वाहिश

करण ऑस्कर अवॉर्ड जीतना चाहते हैं. करण ने इसके लिए एक स्पीच भी तैयार कर रखी है जिसकी कई बार रिहर्सल कर चुके हैं.

एंटीक पीस कलेक्ट करने का है शौक

करण को एंटीक पीस जमा करने का शौक है. अपने इस शौक के लिए उन्होंने कई देशों के ख़ूबसूरत एंटीक पीसेज़ को ख़रीदा है.

फ्रेंच में महारत

करण को हिंदी, अंग्रेज़ी, पंजाबी के अलावा फ्रेंच भाषा भी आती है. करण ने फ्रेंच में मास्टर्स डिग्री हासिल की है.

क्रिकेट से है प्यार

हर भारतीय मर्द की तरह करण को भी क्रिकेट से बेइंतहा प्यार है. जब भी मौक़ा मिलता है करण क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं.

Back to top button