Saturday, November 27, 2021
No menu items!
HomeHindiछोटे पर्दे पर आमिर का सत्यमेव जयते

छोटे पर्दे पर आमिर का सत्यमेव जयते

satyamev jayte

बॉलीवुड में कई ऐसे बड़े स्टार हैं जो छोटे पर्दे पर कई तरह के शो करते हैं, ये शो अधिकतर कमर्शियल ही होते हैं. लेकिन आमिर खान ने जब छोटे पर्दे पर एंट्री मारी तो उन्होंने एक नई तरह की शुरुआत की. आमिर खान 2012 में सत्यमेव जयते के नाम से एक शो लाए, इस शो के जरिए उन्होंने समाज के हीरो, समाज में बुराइयां और कमियों को उजागर किया.

इन मुद्दों को उठाया- इस शो में उन्होंने देश में हो रही सड़क एक्सिडेंट, स्कूल की समस्या, पानी की समस्या, जैसे बड़े मुद्दों को देश के सामने रखा. और ना सिर्फ रखा उन्होंने इन समस्याओं को दूर करने के लिए भी कई तरह के प्रयास किए फिर चाहे वो एनजीओ के जरिए लोगों की मदद करना हो या फिर सरकार से अपील करना.

aamir khan satyamev jayate

ये थी शो की ख़ासियत- मार्च 2012 में आमिर का शो स्टार प्लस और दूरदर्शन पर आना शुरू हुआ, उन्होंने पहले ही एपिसोड में भ्रूण हत्या का मुद्दा उठाया जो लोगों के दिल को छू गया. आमिर के इस शो में हर एपिसोड के लिए एक नया गाना होता था, जो कि उस दिन के मुद्दे को उजागर करता था.

किरण ने संभाला था ये काम- अभी तक आमिर सत्यमेव जयते के तीन सीजन ला चुके हैं, तीसरे सीजन के आखिरी एपिसोड में वह टीवी पर काफी भावुक हो गए थे. उन्होंने अगले सीजन के लिए कुछ समय मांगा था. इस शो के लिए रिसर्च, प्रोडक्शन, क्वालिटी चेक सभी आमिर खान और उनकी पत्नी किरण राव की अगुवाई में ही हुआ था. आमिर के मुताबिक, शो के लिए वे लगभग 2-3 साल से काम कर रह थे.

इस कहानी को भी आमिर लाए थे सामने- आपको बता दें कि आमिर के शो के जरिए ही देश भर के सामने बिहार के दशरथ मांझी की कहानी सामने आई थी, जिन्होंने अपनी पत्नी की मौत के बाद अकेले ही 22 साल में पहाड़ काट दिया था. आमिर के शो में इस कहानी को दिखाने के बाद उनपर एक फिल्म भी बनी थी, जिसमें नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने दशरथ मांझी का किरदार निभाया था. सत्यमेव जयते का आखिरी एपिसोड अक्टूबर 2014 में आया था.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular