Hindi

बॉलीवुड के ये एक्टर पर्दे पर राम नही रावण की भूमिका में आना चाहते है नजर

रामानंद सागर की रामायण में अरुण ने राम तो अरविंद त्रिवेदी ने रावण की भूमिका निभाई थी.तो वहीं इसके बाद कई माइथोलॉजिकल शोज बने जिसमें राम और रावण की भूमिका मुख्य रखा गया.लेकिन हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान रावण का किरदार निभाने वाले एक्टर्स ने कहा कि अगर उन्हें मौका मिला तो आगे भी वो राम की जगह रावण की भूमिका में पर्दे पर नजर आना चाहेगें.

शो का नाम – सिया के राम : कार्तिक जयराम

Babloo Bachelor Poster 1

 62197530 e904 11e5 93e5 5c9d844984a6

स्टार प्लस पर आने वाले शो ‘सिया के राम’ में रावण की भूमिका निभा चुके कार्तिक जयराम की ना सिर्फ एक्टिंग उम्दा थी बल्कि वो पर्दे पर भी काफी बेहतर नजर आते थे.तो वहीं कार्तिक का कहना है कि अगर उन्हें राम और रावण में से किसी का किरदार चुनना पड़ा तो वो रावण का किरदार चुनेंगे क्योंकि इस किरदार में जितनी गहराई है वो किसी और किरदार में नही है.

शो का नाम –रावण की रामायण : पुनीत इस्सर

पुनीत इस्सर

रावण के किरदार को पूरी तरह से जीने के लिए पुनीत रोजाना जिम में दो तीन घंटे के साथ-साथ 10 कि.मी दौड़ते है. पुनीत का कहना है कि रावण एक बुरे आदमी से ज्यादा ज्ञानी पंडित थे. इसी के साथ-साथ उन्हें रामानंद के रावण के बाद अब तक किसी में भी वो बात नहीं दिखी.

शो का नाम  संकट मोचन महाबली हनुमान : आर्या बब्बर

 

arya babbar

टीवी शो ‘संकट मोचन महाबली हनुमान’ में रावण का किरदार निभाने वाले आर्या बब्बर का मानना है कि जब मुझे ये रोल ऑफर हुआ था तो मैनें रावण के बारे में पढ़ना शुरू किया और मुझे रावण गल्त नहीं लगा. बल्कि वो एक परफेक्ट आदमी था और इसके साथ-साथ वो एक अच्छा वॉरियर, एक प्यारा भाई और पति था. तो वहीं आर्या का कहना है कि

मैं रावण के किरदार को उसकी इवेल वाली छवि से हटकर दिखाना चाहता था लेकिन शायद नॉर्थ इंडिया में अभी भी उसे सब इवेल के रुप में ही देखना चाहते हैं तो फिर मैंने वैसा ही शुरू कर दिया.

शो का नाम – देवों के देव महादेव : तरुण खन्ना

tarun

 लाइफ ओके के शो ‘देवों के देव महादेव’ में रावण की भूमिका निभाने वाले तरुण का कहना है कि जब उन्हें रावण का किरदार ऑफर किया गया तो उन्होनें सोचा था कि मैं एक स्मार्ट मॉडल हूं फिर भला मैं कैसे इवेल की भूमिका निभा सकता हूं.लेकिन काफी रिसर्च के बाद उन्होनें ये महसूस किया कि रावण बहुत ही आर्टिस्टिक था और अब जनता रावण को एक हैंडसम आदमी के तौर पर देखना चाहती हैं जिसमें कुछ नेगिटिव बाते भी हों.

 

 

 

Back to top button